Yo Diary

कौन थे लाफिंग बुद्धा और उन्हें कैसे मिला ये नाम, जानें पूरी जानकारी

दुनिया के कई देशों के साथ भारत में भी लाफिंग बुद्धा (Laughing Buddha) की छोटी-मोटी मूर्तियां या तस्वीरें घर में रखना शुभ माना जाता है। मान्यता है कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति या तस्वीर घर में रखने से परिवार में सुख-समृद्धि और खुशहाली आती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लाफिंग बुद्धा कौन थे और इनका नाम लाफिंग बुद्धा क्यों पड़ा।

कौन थे लाफिंग बुद्धा...

कहा जाता है कि महात्मा बुद्ध के एक जापानी शिष्य थे, जिनका नाम होतई था। मान्यता है कि ज्ञान प्राप्त होने के बाद होतई जोर-जोर से हंसने लगे और तभी से उन्होंने लोगों को हंसाना और खुश देखना अपने जीवन का एकमात्र उद्देश्य बना लिया है। इसी वजह से जापान और चीन के लोग उन्हें हंसता हुआ बुद्धा कहने लगे और इसी नाम का अंग्रेजी रूपांतरण है लाफिंग बुद्धा। होतई की तरह उनके अनुयायी भी लोगों को हंसाने और खुशी देने का उद्देश्य दुनिया में फैलाने लगे। चीन में होतई को पुतई के नाम से जाना जाता है और इन्हें फेंग शुई का भगवान भी माना जाता है। मान्यता है कि लाफिंग बुद्धा की मूर्ति या तस्वीर घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा और गुड लक आता है।