Yo Diary

झारखंड : रिम्स में जल्‍द अनुबंध पर बहाल होंगी 100 नर्स

रांची :राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में नर्सों की कमी जल्द ही दूर हो जायेगी. अस्पताल प्रबंधन अनुबंध पर 100 नर्सों को नियुक्त करने की तैयारी कर रहा है. इसकी प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जायेगी. आठ फरवरी को शासी परिषद की बैठक होने वाली है. इस बैठक में अनुबंध पर नर्सों की नियुक्ति का प्रस्ताव रखा जायेगा. शासी परिषद में सहमति बनने के बाद रिम्स प्रबंधन अनुबंध पर नियुक्ति के लिए विज्ञापन प्रकाशित करेगा.

गौरतलब है कि रिम्स में नर्सों की भारी कमी है, जिससे मरीजों को परेशानी तो होती ही है. नर्सों को भी वार्ड में भर्ती मरीजों की देखभाल में भी परेशानी होती है. उन पर अत्यधिक काम का दबाव रहता है. सूत्रों के अनुसार अनुबंध पर नर्सों की नियुक्त में रिम्स की नर्सिंग छात्राओं को प्राथमिकता दी जायेगी. अगर उनका कार्य संतोषजनक होगा, तो उनके कार्य अवधि का विस्तार पर विचार किया जायेगा. समस्या का समाधान राज्य के सबसे बड़े अस्पताल में नर्सों की कमी दूर करने की कवायद शुरू आठ फरवरी को होनेवाली शासी परिषद की बैठक में रखा जायेगा प्रस्ताव अनुबंध पर नियुक्ति में रिम्स की नर्सिंग छात्राओं को दी जायेगी प्राथमिकता

नर्सों की कमी है, इसे दूर करने के लिए 100 नर्सों को अनुबंध पर रखा जायेगा. स्वास्थ्य सचिव से इस संबंध में बातचीत हो गयी है. शासी परिषद में अंतिम निर्णय लिया जायेगा. डॉ एसके चौधरी, निदेशक रिम्स रिम्स प्रबंधन ने लिखित आश्वासन नहीं दिया, तो 31 से हड़ताल पर जायेंगी नर्स रांची : जूनियर नर्स एसोसिएशन ने कहा है कि जब तक रिम्स प्रबंधन उनकी मांगें मानने का लिखित आश्वासन नहीं देता है, तब तक वह हड़ताल स्थगित नहीं करेगा. एसोसिएशन की अध्यक्ष रामरेखा राय ने बताया कि 25 जनवरी काे अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य सुधीर त्रिपाठी की अध्यक्षता में बैठक हुई थी, जिसमेंं 100 नर्सों को नियुक्त करने सहित सभी मांगों पर शासी परिषद (आठ फरवरी को) की बैठक में निर्णय लेने का आश्वसन दिया गया था.

प्रबंधन से लिखित आश्वासन देने को कहा गया था. इसके बावजूद प्रबंधन की ओर से लिखित आश्वसन नहीं मिला है. मंगलवार को प्रबंधन का पत्र नहीं मिलता है, तो स्वास्थ्य सचिव से मुलाकात की जायेगी. इसके बाद 31 जनवरी की 12 बजे रात से हड़ताल शुरू कर दी जायेगी.