Yo Diary

बंदी के मुहाने पर खड़ी 59 खदानों को मिली संजीवनी

धनबाद :सुप्रीम कोर्ट के कॉमन कॉज आदेश के आलोक मे राज्य सरकार ने झारखंड की 334 खदानो को पेनल्टी जमा करने या बंद करने का आदेश दिया था। अब ट्रिब्यूनल के आदेश से इन खदानो को संजीवनी मिल गई है। धनबाद की 59 खदानो को भी आदेश से संजीवनी मिल गई है। इसमे बीसीसीएल की 46 खदाने भी शामिल है। कोल मंत्रालय की पुनरीक्षण याचिका पर ट्रिब्यूनल ने यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया है। <ढ्डह्म> हरकत मे आई सरकार : यथास्थिति बनाए रखने का आदेश आते ही राज्य सरकार का खनन विभाग हरकत मे आ गया है। ऐसा इसलिए क्योकि राज्य सरकार की ओर से मामले मे अपना पक्ष रखा ही नही गया था। कोल कंपनियो ने दावा किया है कि क्लस्टर स्तर पर खनन के लिए पर्यावरण की स्वीकृति ली है। <ढ्डह्म> इधर राज्य सरकार का आदेश मिलते ही खनन विभाग जवाब तैयार करने मे जुट गया है। <ढ्डह्म> बैठक मे मंथन : बीसीसीएल, ईसीएल सहित अन्य कोल कंपनियो के प्रतिनिधियो के साथ उपनिदेशक खान शंकर प्रसाद व जिला खनन पदाधिकारी प्रदीप साह ने धनबाद मे बैठक की। प्रसाद ने कहा कि कोल कंपनियो से भी सभी कागजात मांगे गए है। उसकी जांच की जा रही है। कागजात की जांच के बाद जबाव तैयार कर न्यायालय