Yo Diary

धनबाद केंद्रीय अस्पताल में कैंसर पीडि़ता को चढ़ाई एक्सपायरी स्लाइन

धनबाद, [जागरण संवाददाता] मिनी रत्न कंपनी बीसीसीएल की केंद्रीय अस्पताल में कैंसर पीडि़त मरीज लक्ष्मी देवी (68 वर्ष) को एक्सपायरी ग्लूकोज स्लाइन चढ़ा देने पर गुरुवार को जमकर हंगामा मचा। एक्सपायरी स्लाइन चढ़ाते देख पीडि़ता के पुत्र पवन प्रसाद ने इसकी शिकायत अस्पताल प्रबंधन से की। सूचना मिलते ही प्रबंधन हरकत में आ गया। ड्यूटी में तैनात नर्स से पूरे मामले पर स्पष्टीकरण मांगा गया है। साथ ही मामले की गंभीरता को देखते हुए सीएमएस डॉ. संजीव गुलाश ने जांच कमेटी गठित की है।

बीसीसीएल कर्मी पवन प्रसाद निचितपुर कोलियरी में कार्यरत हैं। उनकी मां लक्ष्मी देवी इलाज के लिए 19 जनवरी को दोपहर में सेंट्रल अस्पताल में भर्ती हुई थी। जांच के बाद पीडि़ता को स्पाइनल कोड, कंधे व लीवर में कैंसर की पहचान की गई। मरीज की स्थिति की गंभीरता को देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें भर्ती कर लिया। बुधवार को महिला को डेक्सट्रोज इंजेक्शन आइपी (स्लाइन) चढ़ाया गया। स्लाइन चढ़ाने के दौरान ही पवन की नजर उस पर पड़ी, देखा कि स्लाइन में अंकित तिथि एक्सपायर हो गई है। स्लाइन की बोतल पवन ने अपने पास रख ली और उसकी फोटो भी खींच ली। लक्ष्मी देवी को जो स्लाइन चढ़ायी गयी है। वह पांच माह पूर्व ही एक्सपायर हो गई है। स्लाइन के निर्माण की तिथि सिंतबर 2014 अंकित है। जबकि एक्सपायर होने की तिथि अगस्त 2017 अंकित है। स्लाइन का बैच नंबर 2-363 है। एक्सपायर दवा की जांच शुरू हो गई है। इसके लिए एक टीम बनाई गई है। जो इसकी जांच में जुटी है।

मामला गंभीर है। जांच टीम गठित की है। जो भी दोषी होंगे उन पर कार्रवाई होगी। वैसे एक्सपायरी दवा को लेकर भी जांच की जाएगी। -डॉ. संजीव गुलाश, सीएमएस, केंद्रीय अस्पताल