Yo Diary

5000 लोगों को आइटी के क्षेत्र में मिला रोजगार : सचिव

रांची : सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव सत्येंद्र सिंह ने कहा कि आइटी के क्षेत्र में झारखंड शानदार काम कर रहा है. डिजिटल साक्षरता के मामले में झारखंड का स्थान देश में दूसरा है. पंचायतों को हाई स्पीड ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जा रहा है. मार्च 2019 तक सभी पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर से वाई-फाई की सुविधा मिलने लगेगी. श्री सिंह शनिवार को सूचना भवन में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोल रहे थे. सचिव ने कहा कि देश के 46 ग्रामीण बीपीओ में से 30 झारखंड में खोले गये हैं. बीपीओ के क्षेत्र में सरकार अब तक पांच हजार युवाओं को रोजगार दिला चुकी है.

सचिव ने कहा कि सरकार की नीतियों की वजह से शहरी क्षेत्र की प्राइवेट कंपनियां भी बीपीओ सेंटर खोलना चाहती हैं. 14 से 60 वर्ष के ग्रामीणों को डिजिटल साक्षर बनाने की योजना पीएमजी की दिशा में बेहतर काम किया जा रहा है. श्री सिंह ने कहा कि मोमेंटम झारखंड की श्रृंखला में सूचना प्रौद्योगिकी व ई गवर्नेंस विभाग की तरफ से 25 फरवरी को आइटी काॅन्क्लेव 2018 का आयोजन किया जा रहा है. धुर्वा के नेहरू स्टेडियम में आयोजित इस कार्यक्रम का उदघाटन मुख्यमंत्री रघुवर दास करेंगे. विशिष्ट अतिथि के रूप में मुख्य सचिव राजबाला वर्मा समारोह में शामिल होंगी.

आइटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियां हिस्सा लेंगी: उन्होंने कहा कि कॉन्क्लेव में आइटी के क्षेत्र में झारखंड के बढ़ते कदम की झलक देखने को मिलेगी. काॅन्क्लेव के दौरान आइटी से जुड़ी कई योजनाओं की शुरुआत की जायेगी. आइटी के क्षेत्र में यह कार्यक्रम मील का पत्थर साबित होगा. इसमें करीब 7000 प्रतिभागी शामिल होंगे. इसमें आइटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियां फेसबुक इंडिया, वीएलइए स्टार्टअप, कॉमन सर्विस सेंटर एसपीवी, एसटीपीआइ, द इंडिया नेटवर्क, फेसबुक डिजिटल मार्केटिंग आदि हिस्सा लेंगी. मौके पर आइटी विभाग के निदेशक यूपी साह व एसटीपीआइ के महानिदेशक ओंकार राय भी मौजूद थे.