Yo Diary

किसी पारा टीचर को नहीं हटाया जाएगा : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्रवार को कहा कि हमारी सरकार राज्य के सभी बच्चों को अच्छी शिक्षा देना चाहती है। इसी मकसद से कम बच्चों वाले स्कूलों का बगल के दूसरे स्कूलों में विलय किया जा रहा है। किसी पारा टीचर को नहीं हटाया जाएगा।मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को चाईबासा के सिंहभूम स्पोर्ट्स मैदान में भाजपा के पंचायत स्तरीय प्रमंडल सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कई सरकारी स्कूलों में 50 से 100 बच्चों पर केवल एक शिक्षक हैं। स्कूलों के विलय से शिक्षकों की संख्या बढ़ जाएगी। विलय होने वाले स्कूलों के बच्चों का एडमिशन ज्यादा बच्चे वाले पास के ही स्कूल में कराया जाएगा जिससे 2 से 3 टीचर बच्चों को पढ़ा सकें और शिक्षा की गुणवत्ता बेहतर हो सकेगी। सरकारी स्कूलों में बैंच व डेक्स की व्यवस्था हो रही है। हमारी सरकार का मुख्य मकसद झारखंड को बदलना है। उन्होंने कहा कि नक्सली या तो समर्पण कर दें या मरने के लिए तैयार रहें। जहां शांति होगी वहीं विकास की धारा बह सकती है।

घर में पार्टी का झंडा लगाएं भाजपा नेता : मुख्यमंत्री ने कहा हर भाजपा नेता के घर पर पार्टी का झंडा होगा। प्रदेश से पंचायत स्तर तक के सभी पदधारी एक हफ्ते में अपने घरों पर पार्टी के झंडे लगाएं। झंडे के साथ घरों के बाहर नाम और पद के भी बोर्ड लगाएं। लगाने के बाद मुझे व्हाट्सएप से भेजें। कार्यकर्ताओं को अहंकार और भ्रष्टाचार से दूर रहने की नसीहत देते हुए कहा कि सरकार और संगठन में कार्य नहीं करने वाले बाहर होंगे। कार्यकर्ताओं को दिया जीत का मूलमंत्र : मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को जीत का मूलमंत्र देते हुए कहा कि भाजपा की आत्मा कार्यकर्ताओं में बसती है। कार्यकर्ता की मेहनत से ही भाजपा शिखर तक पहुंची है। पार्टी द्वारा झारखंड के पूरे 5007 बूथों को स्मार्ट फोन से जोड़ा जाएगा। उन्होंने राज्य में भाजपा को मजबूत करने के लिए सभी मंडल अध्यक्षों को सलाह दी कि अपने-अपने क्षेत्र के स्कूल-कॉलेजों, संस्थाओं, मंदिरों-मस्जिदों के लोगों से संपर्क कर उन्हें भाजपा से जोड़ने का प्रयास करें। उन्हें केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं की जानकारी दें। आदिवासियों को लूटने वाले गठबंधन कर रहे हैं : मुख्यमंत्री ने विपक्ष