Yo Diary

Jharkhand : महंगी बिजली खरीद को जायज ठहराने के फैसले पर बरसे राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार

रांची :झारखंड के राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार बिजली विभाग से बेहद नाराज हैं. उन्होंने कहा है कि जब भारत में बिजली की दरें तेजी से गिर रही हैं, झारखंड सरकार को बरगलाया जा रहा है कि 5 रुपये प्रति यूनिट मिलने वाली बिजली सस्ती पड़ेगी. श्री पोद्दार ने द सोलर एनर्जी कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SECI) की बिजली दरों का हवाला देते हुए ये बातें कहीं हैं.

झारखंड के वायरमैन के नाम से मशहूर उद्योगपति और भाजपा सांसद ने ट्वीट कर कहा है कि SECI ने पिछले दिनों आंध्रप्रदेश और कर्नाटक के लिए क्रमश: 750 और 200 मेगावाट की परियोजनाओं का टेंडर निकाला है. इसमें बिजली की दरों की कैपिंग 2.94 रुपये प्रति यूनिट की गयी है. यानी यह अधिकतम कीमत होगी. श्री पोद्दार ने झारखंड के मुख्यमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए लिखा है कि जब आंध्रप्रदेश और कर्नाटक में बिजली की अधिकतम कीमत 3 रुपये प्रति यूनिट से कम है, तो 5 रुपये प्रति यूनिट बिजली खरीद को जायज ठहराकर सरकार को बरगलाया जा रहा है. उन्होंने सीएमओ से इस मामले में संज्ञान लेने की अपील की है

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि पिछले दिनों झारखंड बिजली वितरण निगम के एमडी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि राज्य में चार से छह रुपये तक बिजली की दरों में वृद्धि होगी. उन्होंने कहा था कि विभिन्न श्रेणी के उपभोक्ताओं के स्लैब पर आधारित चार से छह रुपये तक वर्तमान दर से अधिक भुगतान करना पड़ेगा. उन्होंने कहा था कि झारखंड बिजली वितरण निगम ने राष्ट्रीय टैरिफ नीति 2016 के गाइडलाइन को फॉलो करते हुए नया टैरिफ प्लान फाइनल किया गया है.