Yo Diary

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा- इंटरनेशनल एजुकेशनल हब बनेगा नेतरहाट

रांची।।मुख्यमंत्री रघुवर दास ने नेतरहाट को अंतरराष्ट्रीय स्तर का एजुकेशनल हब बनाने की घोषणा की। इसके अलावा एक माह के भीतर स्कूल में शुद्ध पानी के लिए फिल्टर प्लांट लगाने, एक इनडोर स्टेडियम बनवाने, जनजातीय मामलों को देखने के लिए राष्ट्रीय स्तर का प्रशासनिक केंद्र बनाने और स्कूल परिसर में कृषि केंद्र की स्थापना किए जाने की भी बात कही। वे गुरुवार को मंत्रियों और विधायकों की उपस्थिति में नेतरहाट स्कूल के बच्चों की असेंबली को संबोधित कर रहे थे।

नेतरहाट की तर्ज पर ही खुलेंगे तीन प्रमंडलों में आवासीय विद्यालय

मुख्यमंत्री ने कहा कि नेतरहाट स्कूल में शिक्षा और संस्कार का अनोखा संगम देखने को मिलता है। यह स्कूल देश का भविष्य गढ़ने में योगदान दे रहा है। इसके लिए सरकार की ओर से जो भी मदद चाहिए, वह दी जाएगी। कंप्यूटर और अन्य प्रोफेशनल कोर्स के लिए भी सरकार सहयोग करेगी। स्कूल की जमीन का अतिक्रमण नहीं होना चाहिए। नेतरहाट की तर्ज पर ही सरकार ने तीन प्रमंडलों में आवासीय विद्यालय खोलने की स्वीकृति दी है। इससे झारखंड में शिक्षा के स्तर में काफी सुधार होगा। उन्होंने बच्चों से कहा कि दुनिया तेजी से बदल रही है। इस अनुरूप अपने को ढाल कर न्यू भारत और न्यू झारखंड के निर्माणकर्ता बनें। जिस सेक्टर में रुचि हो, उसी की पढ़ाई करें, लेकिन उत्कृष्ट बनें। इससे पहले उन्होंने 850 लोगों के बैठने की क्षमता वाले अत्याधुनिक ऑडिटोरियम का उद्घाटन किया। पूरे स्कूल का भ्रमण करते हुए लाइब्रेरी, जीव विज्ञान प्रदर्शनी, कला संकाय सहित अन्य विभागों को देखा। उन्होंने झारखंड टूरिज्म डेवलपमेंट काॅरपोरेशन द्वारा नेतरहाट में बनाए गए गेस्ट हाउस अरुणोदय का भी उद्घाटन किया।

राजधानी से बाहर कैबिनेट की अगली बैठक चतरा में

सूर्योदय का नजारा देखने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राजधानी से बाहर अगली बैठक चतरा में होगी। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि सभी प्रमंडलों में बैठक कर वहां की समस्याएं जाने और उन्हें सुलझाएं। सरकार झारखंड भवन से निकल कर क्षेत्र में जा रही है। इसी क्रम में पलामू प्रमंडल के नेतरहाट में बैठक की गई है। पलामू के विकास के लिए कई योजनाओं की स्वीकृति भी दी गई है।