Yo Diary


The Quotes are powered by Investing.com India

चने में लौटी खरीदारी, ऐसे कमाएं मुनाफा

मुंबई.दो महीने के निचले स्तर से चने में तेजी देखने को मिल रही है. कमोडिटी एक्सचेंज NCDEX पर चने का जनवरी कॉन्ट्रैक्ट आधा फीसदी की तेजी के साथ 4138 रुपये प्रति क्विंटल के करीब पहुंच गया है. चने का मार्च कॉन्ट्रैक्ट 9 रुपये की मजबूती के साथ 4318 रुपये प्रति क्विंटल पर पहुंच गया है. आइए जानते हैं चने के बारे में कारोबारियों और विश्लेषकों का क्या नजरिया है?

केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया के मुताबिक, पिछले दो दिन की गिरावट के बाद आज निचले स्तर से खरीदारी लौटी है. उनका कहना है कि चने के फंडामेंटल्स काफी मजबूत हैं. चने की कीमतों में आगे तेजी के संकेत दिख रहे हैं. तेजी का पहला कारण यह है कि चालू सीजन में चने की बुआई करीब 10 फीसदी कम रही है. इसके अलावा मटर इंपोर्ट पर रोक की अवधि बढ़ाये जाने से चने की कीमतों में आगे तेजी के संकेत दिख रहे हैं.

केडिया की चने में खरीदारी की सलाह है. निवेशकों को कमोडिटी एक्सचेंज NCDEX पर चने के मार्च कॉन्ट्रैक्ट में 4300 रुपये के भाव पर खरीदारी करनी चाहिए. 4200 का स्टॉपलॉस रखते हुए 4550 रुपये प्रति क्विंटल का लक्ष्य रखना चाहिए.

केंद्रीय कृषि मंत्रालय के रबी फसलों की बुआई के आंकड़ों के अनुसार, फसल वर्ष 20118-19 (जुलाई-जून) के रबी बुआई सीजन में दलहनों की बुआई अब तक 143.56 लाख हेक्टेयर में हुई है, जो पिछले साल की समान अवधि से 6.44 फीसदी कम है. पिछले साल अब तक 153.44 लाख हेक्टेयर में दलहनों की बुआई हो चुकी थी. प्रमुख रबी दलहन चना का रकबा 92.89 लाख हेक्टेयर है, जो पिछले साल के समान अवधि के 104.21 लाख हेक्टेयर से 10.86 फीसदी कम है.

गौरतलब है कि सरकार ने पीली मटर के इंपोर्ट पर रोक की अवधि मार्च तक बढ़ा दी है. इसके चलते चने की कीमतों में आगे तेजी के संकेत है. पीली मटर चने के विकल्प के तौर पर भी इस्तेमाल में आती है. इंडीट्रेड डेरेवेटिव्स एवं कमोडिटीज में रिसर्च हेड (कमोडिटीज एवं करेंसी) हरीश गलीपेल्ली के मुताबिक इस साल चने की बुआई कम रहने से उत्पादन कम रहने का अनुमान है.

उनका कहना है कि कमोडिटी एक्सचेंज NCDEX पर जनवरी वायदा में 4120-30 के भाव खरीदारी की सलाह है. जनवरी कॉन्ट्रैक्ट का भाव ऊपर में 4200 रुपये प्रति क्विंटल का स्तर दिखा सकता है.